Homeहेल्थ-फ़िटनेसतुलसी सेवन के फायदे तो पढ़े होंगे, अब अधिक सेवन के नुकसान...

तुलसी सेवन के फायदे तो पढ़े होंगे, अब अधिक सेवन के नुकसान भी जान लें

हिंदू धर्म में तुलसी की पूजा की जाती है और इसकी कई तरह के लाभकारी गुणों को भी माना जाता है. औषधीय गुणों से भरपूर तुलसी का सेवन करने से सेहत को कई फायदे मिलते हैं। सर्दियों में तुलसी के पत्तों का काढ़ा या चाय बनाकर पीने से कई बीमारियों के संक्रमण और स्किन इंफेक्शन जैसी समस्याएं दूर होती हैं। लेकिन इससे अलग क्या आप इस बात को जानते हैं कि सेहत के लिए वरदान मानी जाने वाली तुलसी का अगर अत्याधिक सेवन किया जाए तो ये फायदे की जगह आपकी सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकती है। आइए जानते हैं कैसे।

 

ये भी पढ़े – Vodafone – Idea के इस सस्ते प्लान में हर दिन पाएं 4GB डेटा और फ्री कॉलिंग 

 

तुलसी का ज्यादा सेवन करने से सेहत को हो सकते हैं ये नुकसान-

 

-डायबिटीज-

तुलसी की पत्तियों में हाइपोग्लाइसेमिक लेवल कंट्रोल करने वाले गुण होते हैं। तुलसी के पत्ते चबाने से आपका ब्लड शुगर लेवल कम होता है। ऐसे में अगर शुगर के मरीज जो पहले से ही शुगर की दवाइयां ले रहे हैं,अगर वो तुलसी का अधिक सेवन करते हैं, तो उनके ब्लड शुगर में बहुत ज्यादा कमी आ सकती है। जो उनके लिए नुकसानदेह हो सकता है।

 

-हार्ट रेट का बढ़ना-

तुलसी में मौजूद यूजेनॉल की वजह से व्यक्ति का हार्ट रेट बढ़ सकता है, मुंह में छाले हो सकते हैं, चक्कर आ सकता है।

 

-गर्भवती महिलाएं-

तुलसी में मौजूद यूजेनॉल महिलाओं के पीरियड शुरू होने का कारण बन सकता है। इतना ही नहीं तुलसी का अधिक सेवन करने से प्रेगनेंसी में डायरिया की समस्या भी हो सकती है। यही वजह है कि डॉक्टर गर्भवती महिलाओं को तुलसी का सेवन करने की सलाह नहीं देते हैं।

 

-खून पतला

तुलसी के पत्तों का अधिक सेवन करने से शरीर का खून पतला हो सकता है। वालफरिन और हेपरिन जैसी दवाओं को लेने वाले रोगियों को तुलसी का सेवन नहीं करना चाहिए। इसके अलावा इसे अन्य एंटी-क्लोटिंग दवाओं के साथ भी नहीं लेना चाहिए।

 

-जलन-

तुलसी की तासीर गर्म होने की वजह से इसका अत्यधिक सेवन करने से पेट में जलन पैदा हो सकती है। यही वजह है कि तुलसी का सेवन सीमित मात्रा में ही करने की सलाह दी जाती है।

 

अस्वीकरण – यह लेख केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। ujaagar news इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है। 

 

RELATED ARTICLES

Latest Post