22 साल बाद जिंदा घर पहुंचा मरा हुआ पति, देखकर पत्नी हुई हैरान
Spread the love

उत्तर प्रदेश –  प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है. अब इसकी चपेट में आकर एक और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) विधायक ने जान गंवा दी है. रायबरेली की सलोन विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक व पूर्व मंत्री दल बहादुर कोरी का आज निधन हो गया. वह बीते दिनों ही कोरोना संक्रमित हुए थे और उनका इलाज चल रहा था.

 

ये भी पढ़े-संपूर्ण लॉकडाउन : अब इस राज्य में 10 मई से 24 मई तक लॉकडाउन का ऐलान, जानें क्या क्या खुलेगा और किस पर रहेगी पाबंदी

 

एक हफ्ते पहले संक्रमित हुए थे दल बहादुर कोरी

सलोन सीट से बीजेपी विधायक दल बहादुर कोरी एक हफ्ते पहले कोरोना संक्रमित हुए थे. इसके बाद उन्हें लखनऊ के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था. आज सुबह अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई. इलाज के दौरान ही उनका निधन हो गया. उनके निधन की खबर से सलोन में गम का माहौल है.

 

ये भी पढ़े-बिग कोरोना ब्रेकिंग : चाय बागान में 133 लोग पाए गए कोरोना संक्रमित, इलाके को किया कंटेंमेंट जोन घोषित

 

राम मंदिर आंदोलन से जुड़े थे दल बहादुर कोरी

बीजेपी विधायक दल बहादुर कोरी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वह 1990 में राम मंदिर आंदोलन से जुड़े हुए थे, वह दो बार जेल भी गए थे, इस दौरीन 1991 में उन्हें टिकट मिला, लेकिन वह चुनाव हार गए. हालांकि, दल बहादुर कोरी पहली बार 1996 में सलोन विधानसभा से विधायक बने और राजनाथ सिंह के मुख्यमंत्री काल में मंत्री बनाए गए.

 

ये भी पढ़े-दुल्हन फरार ! शादी के बाद विदा होकर ससुराल जा रही दुल्हन पति को छोड़ आशिक संग हुई फरार, मचा हड़कंप

 

2004 में दल बहादुर कोरी कांग्रेस में शामिल हो गए, लेकिन 2014 में उनका कांग्रेस से मोहभंग हो गया और घर वापसी की. इसके बाद 2017 में बीजेपी ने दल बहादुर कोरी को सलोन सीट से टिकट दिया. उन्होंने सलोन विधानसभा चुनाव के दौरान जीत हासिल की. बीते दिनों वह पंचायत चुनाव के दौरान काफी सक्रिय थे.

By Editor