Spread the love

बिहार : देश भर में कोरोना का कहर जारी है.  रोजाना सैकड़ों लोगों की मौत हो रही है. ताजा मामला बिहार के गोपालगंज जिले के कटेया थाना के रुद्रपुर गांव का है, जहां हाइस्कूल में बतौर अतिथि शिक्षक के रूप में कार्यरत युवक की शादी के 15 दिनों बाद कोरोना के चपेट में आकर मौत हो गई. नवविवाहिता के हाथों की महंदी भी नहीं छूटी थी और उसका सुहाग उजड़ गया. इस घटना के बाद पूरे गांव में मातम पसर गया है.

 

ये भी पढ़े –छग ब्रेकिंग – छत्तीसगढ़ में ब्लैक फंगस से एक और महिला की हुई मौत, एम्स में ली अंतिम सांस

 

बारात से लौटने के बाद बिगड़ी था तबीयत

बता दें कि कटेया थाना क्षेत्र के रुद्रपुर गांव निवासी युवक  (30) की शादी पिछले 28 अप्रैल को पशिचम चंपारण के बगहा थाना के बनकटवा गांव के युवती के साथ हुई थी. मगर कोरोना संक्रमित होने के कारण युवक  की मौत हो गई. मिली जानकारी अनुसार 29 अप्रैल को दुल्हन को लेकर लौटने के बाद से ही युवक  की तबीयत खराब थी. स्थानीय स्तर पर उसका इलाज कराया जा रहा था.

 

ये भी पढ़े –मशहूर डॉक्टर का कोरोना से निधन,  वैक्सीन की दोनों डोज लगी थीं

 

हालांकि, हालत में सुधार ना होता देख परिजनों ने 5 मई को उसे गोरखपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान 15 मई को उसकी मौत हो गई. मौत की खबर मिलने के बाद स्थानीय मुखिया और परिजन गोरखपुर पहुंचे. परिजनों ने कोरोना प्रोटोकॉल के तहद युवक  का अंतिम संस्कार गोरखपुर में ही कर दिया.

 

ये भी पढ़े –शानदार इलेक्ट्रिक बाइक, एक बार चार्ज करने पर 150 किलोमीटर तक का सफर, मात्र इतने रुपये में ले जाए घर

 

पत्नी का रो-रोकर हुई बुरा हाल

इधर, पति की मौत के बाद पत्नी   हाल बेहाल है. वो लगातार बेहोश होकर गिर जाए रही है. होश में आने पर केवल यही कहती है कि अब जिंदगी कैसे चलेगी? इधर, युवक  के कोरोना से मरने के बाद भी प्रशासन अलर्ट नहीं हुआ है. प्रशासनिक स्तर से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. ऐसे में मृतक के परिजनों का कहना है कि इलाके में जांच कैंप लगवा कर लोगों की जांच कराए, ताकि कोई और अगर संक्रमित हो तो उसका पता चल सके.

By Editor