Raju Srivastav Death : नहीं रहे कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव, 41 दिनों तक AIIMS में लड़ी मौत से जंग

Raju Srivastav Death: कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का निधन हो गया है। बता दें कि 10 अगस्त को जिम में वर्कआउट दौरान राजू को दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती करवाया गया था। 58 वर्षीय राजू श्रीवास्तव पिछले 41 दिनों से जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे थे. राजू श्रीवास्तव के निधन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक जताया है.

 

ये भी पढ़े- Amazon पर बंपर छूट ! स्मार्ट टीवी की इससे सस्ती डील नहीं मिलेगी, 5 हजार की शुरुआती कीमत में ले जाएं घर

 

राजू श्रीवास्तव कानपुर के रहने वाले थे और यूपी फिल्म विकास परिषद के चेयरमैन भी थे. एम्स से मिली जानकारी के मुताबिक आज सुबह 10.20 बजे राजू श्रीवास्तव ने आखिरी सांस ली. राजू श्रीवास्तव के निधन पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव सांसद रवि किशन, समेत तमाम नेताओं और फ़िल्मी हस्तियों ने गहरा शोक जताया है.

 

राजू श्रीवास्तव ने कानपुर जैसे शहर से निकलकर बॉलीवुड में अपने पैर जमाए और स्टैंडअप कॉमेडी के वे किंग माने जाते थे. उनके निधन को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपूरणीय क्षति बताया है. 25 दिसंबर 1963 को कानपुर में जन्मे राजू श्रीवास्तव 1993 से हास्य की दुनिया में काम कर रहे थे.

 

उन्होंने कल्यानजी आनंदजी, बप्पी लाहिड़ी एवं नितिन मुकेश जैसे कलाकारों के साथ भी काम किया. वह अपनी कुशल मिमिक्री के लिए जाने जाते थे. उनको असली सफलता ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज से मिली. इस शो में अपने कमाल के प्रदर्शन की बदौलत वह घर-घर में सबकी जुबान पर आ गए. उनका गजोधर का किरदार भी काफी फेमस हुआ था.

 

ये भी पढ़े- भारत में मुकेश अंबानी के अलावा इन लोगों के पास टेस्ला की कारें, जाने इस कार कीमत और खासियत

 

एमपी के मुख्यमंत्री ने किया ट्वीट

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा, अपनी कला से हास्य को नया रंग देने प्रसिद्ध कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव जी के निधन का अत्यंत दुखद समाचार प्राप्त हुआ। हंसते-हंसाते आप ऐसे चले गये कि मनोरंजन जगत में कभी न भरने वाला एक बड़ा शून्य छोड़ गये।
अपनी कला से हास्य को नया रंग देने प्रसिद्ध कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव जी के निधन का अत्यंत दुखद समाचार प्राप्त हुआ।

हंसते-हंसाते आप ऐसे चले गये कि मनोरंजन जगत में कभी न भरने वाला एक बड़ा शून्य छोड़ गये।

अपने विनोद, ऊर्जा और हास्य के लिए आप सदैव याद आते रहेंगे।

 

By Editor